Page Nav

HIDE

Grid Style

GRID_STYLE

Post/Page

Weather Location

Breaking News:

latest

केंद्र ने खुलासा किया कि भारत में सबसे पहले कोविद-19 वैक्सीन कौन प्राप्त करेगा

भारत में बढ़ते कोरोनावायरस कोविद-19 मामलों के बीच, केंद्र सरकार को उम्मीद है कि वैक्सीन की 400 से 500 मिलियन खुराक 2021 में देश में उपलब्ध होगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने मंगलवार को दिल्ली में मंत्रियों के समूह की…



भारत में बढ़ते कोरोनावायरस कोविद-19 मामलों के बीच, केंद्र सरकार को उम्मीद है कि वैक्सीन की 400 से 500 मिलियन खुराक 2021 में देश में उपलब्ध होगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने मंगलवार को दिल्ली में मंत्रियों के समूह की बैठक की अध्यक्षता की। दोनों भारतीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कोरोनोवायरस वैक्सीन के परिदृश्य पर चर्चा करना।

हर्षवर्धन ने बताया, "वैक्सीन की संभावित उपलब्धता को ध्यान में रखते हुए, जिन वर्गों को प्राथमिकता दी जानी है उन पर कार्रवाई की प्राथमिकता के साथ एक करीबी गति बनाए रखना जरूरी है। महत्वपूर्ण बात यह है कि इस पर नजर रखी जाएगी।"

उन्होंने कहा, "इसके लिए दुनिया ने जो रणनीतियां अपनाई हैं, वह सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल हैं। अमेरिका में इस पर गहन अध्ययन किया जा रहा है। इसके लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म भी तैयार किए जा रहे हैं।"

यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि देश में वैक्सीन के वितरण को कैसे रोल किया जाए, इसकी योजना बनाने के लिए केंद्र द्वारा डॉ। वीके पॉल की अध्यक्षता में वैक्सीन प्रशासन पर राष्ट्रीय विशेषज्ञ समूह को कार्य सौंपा गया है। उच्च स्तरीय पैनल में एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया, विदेश मामलों के मंत्रालयों के प्रतिनिधियों, जैव प्रौद्योगिकी, सूचना प्रौद्योगिकी, स्वास्थ्य सेवाओं के महानिदेशक, भारत के एड्स अनुसंधान संस्थान, भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद और राज्यों के प्रतिनिधि भी शामिल हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, मंगलवार को बैठक के दौरान डॉ वीके पॉल ने "सीडीसी, यूएसए और डब्ल्यूएचओ की सिफारिशों पर वैक्सीन ड्राइंग की प्रारंभिक पहुंच वाले लोगों की प्राथमिकता वाले वर्गों पर एक व्यापक अध्ययन" प्रस्तुत किया। 


(विभिन्न ऑनलाइन समाचार से इनपुट)

No comments